ऑफिस की नेपाली चूत

ऑफिस के चपरासी हरिराम ने आवाज लगाई, “पुष्पा मेडम आप का लेटर, Hindi Sex Stories Antarvasna Kamukta Sex Kahani Indian Sex Chudai Antarvasna सुबोध यादव सर ने भेजा हैं” (ऑफिस की एकमात्र नेपाली स्टाफ पुष्पा कोइराला को दिल्ली को यहाँ अब

तक 2 साल का अनुभव था.)

पुष्पा, “ओह थेंक यू बाबु अंकल.”

यह तो नेपाली लड़की के तबादले का लेटर था
लेकिन जैसे ही पुष्पा ने लेटर खोला उसकी नेपाली आँखे जो पहले से छोटी थी और भी छोटी हो गई. यह उसके तबादले का लेटर था और उसका तबादला यहाँ से 250 किलोमीटर दूर

दिल्ली में हुआ था. अभी तो उसे लगा था की उसकी जगह सेट हुई थी. उसने नेपाली कोलिनी में एक मकान लिया था और सेटल हुई थी. उसके बॉयफ्रेंड को भी उसने बुलाने की सोच

रखी थी और अब यह ऑर्डर. वो अपनी आँखों के कौनो से आंसू की बूंदों को पोंछते हुए सुबोध यादव के केबिन में गई. यादव जी यहाँ के मेनेजर थे और कहते हैं की यादव जी की

इजाजत के बिना ऑफिस के अंदर हवा भी रुख नहीं बदलती. इसलिए पुष्पा को पता था की इस तबादले के पीछे जरुर सुबोध यादव का ही हाथ हैं.

“अरे पुष्पा आओ. लेटर मिला आप को?”

“सर यह क्या हैं, मैं इतनी महनत से काम करती हूँ और आप ने इसकी जरा भी सराहना नहीं की. मुझे मुश्किल से सेट होने का टाइम मिला था. पिछले कुछ हफ्तों पहले मुझे नेपाली

कोलिनी में मकान मिला हैं. सर प्लीज़ हेल्प कीजिए मेरा; मुझे पता हैं की अगर आप चाहें तो यह ऑर्डर रुक सकता हैं.”

सुबोध यादव ने लेपटोप के ऊपर से नजर हटाये बिना ही कहा, “चाहता तो मैं बहुत कुछ हूँ, पर सब पूरा थोड़ी होता हैं.”

अभी पुष्पा समझ गई की यादव जी क्या कह रहे हैं. दरअसल यादव जी एक नम्बर के चुदक्कड इंसान हैं और उन्होंने इस नेपाली लड़की को फांसने की पूरी कोशिश की थी लेकिन

नेपाली लड़की पुष्पा आजतक उनकी चुंगल से बचती आई थी इसलिए यादव जी ने सोचा की चूत नहीं दे रही तो हटाओ साली को इसका काम भी क्या हैं यहाँ. पुष्पा कुछ बोलने की

अवस्था में नहीं थी फिर भी उसने धीरे से कहा, “आप को क्या चाहिए यादव जी आप खुल के बताइए. अगर दो पांच हजार किसी को दे के भी बात बन सकती हैं तो मैं उसके लिए

रेडी हूँ.”

यादव जी ने कान को पकड़ते हुए कहा, “उपरवाला बचाए रिश्वत खाने खिलाने से पुष्पा. आप ने कभी शिल्पा और मंदाकीनी को देखा हैं हमारे साथ कैसे रहती हैं. हम भी उनका

कितना ख्याल रखते हैं. मंदाकिनी को साल में दुगुना इन्क्रीमेंट दिलवाया और शिल्पा को कंपनी से ढाई लाख का लोन हम ही तो पास करवा के लाये.”

पुष्पा की धीरज अब कम हो रही थी. इस नेपाली लड़की के गोरे गाल लाल हो गए थे, क्यूंकि उसे गुस्सा और टेंशन दोनों लगी हुई थी. उसने यादव जी से कहा, “आप खुल के बताइए

यादव जी. हम भी कुछ भी कर सकते हैं अपने इस तबादले को रोकने के लिए.”

यादव जी लड़कियों को जाल में फंसाते थे
यादव जी अपने लंड को पुष्पा देखे ना वैसे टेबल के निचे रगड़ते हुए बोले, “यह हुई ना बात कुछ. आप हमारे होटल के रूम में आ जाइए कभी दिल बहलाने के लिए. वैसे आप की

सेलरी और दूसरा जिम्मा हमारे पे रहेगा. अगर आप अभी कमा रहे हैं उसमें 33% इनक्रीस ना दिलवाएं तो आप जूता मार देना हमारे सर के उपर.”

पुष्पा, “और मेरा तबादला?”

यादव हंस के बोला, “रुक गया ही समझो. आ जाओ मेरेपास.”

पुष्पा ने पीछे देखा और वो धीरे से यादव के नजदीक गई. यादव अपनी जगह से उठा और उसने नेपाली बदन को चारो तरफ से देखा. उसने पुष्पा की गांड के उपर एक चमाट लगाई

और बोला, “बड़ा कसा हुआ बदन हैं आप का. नेपाली लड़की के साथ हमारा आज तक मुकाबला नहीं हुआ है कभी बिस्तर पे. मजा कराओगी हमें?”

पुष्पा कुछ नहीं बोली. बेचारी को तबादला रुकवाने के लिए इस सेक्स के भूखे बूढ़े भेड़िये को अपनी नुमाइश देनी पड़ रही थी. यादव ने अपने इंटरकोम से बहार फोन लगाया, “हेल्लो,

बाबु मेरे ऑफिस के बहार डू नोट डिस्टर्ब की साइन लगा दे. और अनिरुद्ध सर को बोलना की वो मेरी केबिन में आधे घंटे के बाद आये.”

बाबुलाल ने फोन रखा और वो समझ गया की साहब आज नेपाली खाना खायेंगे. इधर पुष्पा के चुंचो पर सुबोध यादव के गंदे हाथ फिरने लगे थे. सुबोध ने हरिराम से बात करने के

बाद ऑफिस को अंदर से बंध किया था. अब वो कुर्सी में बैठा और उसने अपने लंड को बहार निकाला. उसने पुष्पा को इशारा किया. पुष्पा उसकी दोनों टांगो के बिच में आके बैठ गई.

यादव ने पुष्पा के बालो को अपने हाथ में लिया और इस भरी हुई जवानी को अपने लंड के तरफ खिंचा. पुष्पा ने मुहं खोला और यादव का काला मोटा लंड उसके मुहं में भर गया.

यादव ने आँखे बंध की लेकिन उसने अभी भी पुष्पा की छोटी पीछे से पकड़ के रखी थी. पुष्पा ने एक हाथ से यादव जी के लंड के निचे के भाग को पकड़ के रखा और ऊपर से वो

उनके लंड को चूस रही थी. यादव जी कुर्सी में अपनी गांड को धीरे धीरे उचका के लंड का मार पुष्पा के मुहं में देने लगे. आह आह की हलकी आवाज करते करते मुखमैथुन यूँ ही कुछ

10 मिनिट चलता रहा.

10 मिनिट के बाद यादव जी के लौड़े ने पिचकारी छोड़ी और इस नेपाली लड़की का मुहं वीर्य के भार से लद सा गया. पुष्पा ने अपनी रुमाल निकाल के वीर्य को पौंछना चाहा ललेकिन

उसके पहले यादव जी ने उसे एक टिश्यू दे दिया. पुष्पा ने अपने मुहं में से सारा वीर्य टिश्यू पे निकाला और वो अपने होंठो पे लगी बुँदे भी साफ़ करने लगी. यादव जी ने अपनी पेंट

ठीक की और वो पुष्पा को कंधे से पकड़ के खड़ा करने लगे. उन्होंने पुष्पा को कहा, “बड़े मजे का अनुभव करवाया अपने मुहं से आपने तो. उस तबादले के लेटर को फाड़ दो और जा

के काम देखो. कल मैं आप को मोबाइल पे फोन करूँगा. आप होटल पे आ जाना फिर और फायदे आप के लिए करवा दूंगा.”

नेपाली लड़की ने लेटर फाड़ा और वो अपनी सेक्सी गांड हिलाते हुए कमरे से बहार निकल गई. यादव जी अगले दिन कैसे इस लड़की को चोदना हैं उसकी प्लानिंग अपने दिमाग में

करने लगे.

दुसरे दिन सुबह हरिराम वापस पुष्पा के टेबल पर गए और उसे यादव जी की केबिन में जाने को कहा.

पुष्पा अपनी सेक्सी नेपाली गांड को स्कर्ट उठा के सही करने लगी. वो केबिन में घुसने से पहले बोली, “मे आई कम इन सर.”

यादव जी गंदी नजर से उसे देखते हुए बोला, “कम इन कम आउट, एस यु विश.”

पुष्पा अंदर आई और इस बूढ़े इंडियन ने खड़े हो के उसकी जुल्फों को अपने हाथ में लेते हुए कहा, “आज आ जाओ आप शाम को होटल निओन पर. शाम को 4 बजे काम छोड़ देना

आप शेविंग वगेरह करनी हो तो. मैं आप को रिसेप्शन पे ठीक 5:45 पे मिलूँगा. अगर कुछ कहना हैं तो बोलिए.”

आ जाओ निओन होटल पे शाम को, मस्ती करेंगे
पुष्पा कुछ नहीं बोली और उसने सिर्फ ना के लिए सर हिलाया. यादव ने उसे वापस जाने को कहा. पुष्पा जब बाहर आई तो हरिराम और शिल्पा कुछ खुसपूस कर रहे थे. शायद दोनों

यादव जी के नए ठप्पे की ही बात कर रहे थे. पुष्पा ठीक 3 बजे ऑफिस से निकल गई. उसने घर आके अपने बूढ़े इंडियन बोस के लिए सजना धजना चालू किया. पहले तो उसने

अपने बगल और चूत के बाल निकाले और फिर नहा के वो फ्रेश हो गई. शाम के ठीक 5:35 पर वो निओन के रिसेप्शन पे थी. पांच मिनिट में यादव जी अपनी गाडी से उतरे और

पुष्पा के पास आये. उन्हें देख के रिसेप्निस्ट ने तुरंत चाबी निकाली और यादव जी के सामने रखी. यादव जी हँसे और पुष्पा को इशारा किया साथ में आने के लिए.

कमरे में घुसते ही यादव जी ने अपनी पतलून का बेल्ट खोला और बोले, “आज मेरी बीवी का बर्थ डे भी हैं इसलिए हमने जल्दी प्रोग्राम रखा वरना शिल्पा तो पूरी नाईट के लिए यहाँ

आती हैं.”

पुष्पा इस भूखे भेड़िये जैसे इंडियन बूढ़े को देखती रही और दो मिनिट के भीतर तो वो नंगा हो गया. उसने पलंग के उपर बैठ के पुष्पा को अपने पास बुलाया. दबते पाँव पुष्पा उसके

पास गई. यादव जी ने उसके चुंचे रगड़ते हुए कहा, “देखो घबराओ मत. एक बार हम से चुदोंगी फिर तुम्हे कई और जाने की इच्छा नहीं होंगी. हमारी कोलेज की गर्लफ्रेंड्स आज भी

अपनी चूत में हमारे नाम की ऊँगली लेती हैं.”

उसने एक इंडियन ब्रांड की व्हिस्की की बोतल फ्रिज से निकाली और दो स्माल पेग बनाये, पुष्पा ने अभी पेग हाथ में लिया था इतने में तो यादव पूरा पेग गटक गए थे. पुष्पा के होंठ

पर जाम था और उसके पीछे की लंबी ज़िप यादव जी खोल चुके थे. यादव जीने फिर उसकी ब्रा की हुक खोली और ऊपर के सभी कपडें उतार दिए. उनका लंड अब काफी लम्बा हो

गया था, उनका देसी इंडियन लंड कुछ 8 इंच का था और सुपाड़ा भी ढाई से तिन इंच चौड़ा था. पुष्पा ने व्हिस्की ख़तम की उतनी देर में तो उसकी स्कर्ट और पेंटी भी यादव जी हटा

चुके थे. यादव जी अब पुष्पा की चूत के उपर अपनी ऊँगली फेर रहे थे और वो बोले, “आज पहली बार विदेशी चूत लेंगे हम. बुरा मत मान लेना लेकिन आप नेपाली हैं और मैंने तो

आज तक केवल इंडियन चूत से ही मजे लिए हुए हैं.”

पुष्पा अभी कुछ जवाब दे पाती उसके पहले तो यादव जी के होंठ पुष्पा की चूत पे फिरने लगे. यह ठरकी बुढा अपनी पूरी जबान चूत के अंदर घुसा के पुष्पा को आह आह बोलने पे

मजबूर कर बैठा. उसका देसी इंडियन लंड और भी तन चूका था और उसके अंदर अब कंपन से आ रहे थे. सुबोध यादव वही मस्ती से चूत की खुजली अपने होंठो से मिटाते रहे. पुष्पा

को यह मीठा मीठा दर्द चूभन दे रहा था और वो बिस्तर के ऊपर की चादर को अपने हाथो से मरोड़ रही थी. उसने अपनी टाँगे पूरी फैला के चूत के अंदर पूरी जीभ जाने का रास्ता

बना लिया था. यादव जी भी जैसे की चूत की तल से पेट्रोल का कुंवा खोदना हो वैसे चूत पूरी तरह अपनी जीभ से चोदने लगे. पुष्पा ने अब इस बूढ़े इंडियन चुदक्कड के माथे को

पकड़ के अपनी तरफ खिंचा ताकि वो चूत को और भी डीप सक कर सके. यादव जी ने पुष्पा की गांड को दबोचा और वो और भी जोर जोर से चूत चाटने लगे. पुष्पा से अब बर्दास्त

नहीं हुआ और उसकी चूत ने नदी बहा दी. चूत का खारा रस यादव जी अपनी जबान से चाट के जब उठे तो उनके मुहं पर युध्द से जित के वापस आये फौजी वाले भाव थे.

यादव जी ने अब अपना देसी इंडियन लंड पुष्पा की नेपाली चूत के उपर सेट किया. उन्होंने पुष्पा के चुंचो को अपने हाथो में लिया और फिर धीरे से एक झटका दिया. पुष्पा की चूत

गीली थी फिर भी इस तगड़े इंडियन लंड के भारी झटके को वो सहन नहीं कर पाई.

इंडियन लंड फाड़े नेपाली चूत को
“आह आह ओह सरररर प्लीज़ स्लो कीजिए…मुझेह्ह्हह्ह बहुत दर्द हो रहा हैं.” उसके शब्दों को जैसे की आंसू में डुबो के गले से बहार निकाला गया था. यादव जी ने आगे वो कुछ

और बोले ना इसके लिए उसके होंठो पर किस कर ली और वो धीरे धीरे अपने इंडियन लंड को नेपाली चूत की शेर कराने लगे. यादव जी का तगड़ा लंड अब अंडकोष तक चूत में डूबा

हुआ था और ऊपर से वो और प्रेशर कर के झटके दे रहे थे, जैसे उन्हें अंडकोष भी चूत में पेल देने हो.

पुष्पा की चूत फट सी गई और इस कुँवारी लड़की को लगा की जैसे उसकी चूत में कोई तेज धारवाला चाक़ू घुसेड़ दिया गया हैं. पांच मिनिट की स्लो चुदाई के बाद पुष्पा थोड़ी ढीली

हुई और अब वो अपनी गांड को धीरे धीरे हिलाने लगी. यादव जी उसे गांड के ऊपर चमाट लगा लगा के अपने लंड पे उछालna चाहते थे अब. इसलिए उन्होंने अब निचे लेट के

पुष्पा को अपने लंड के उपर बिठा लिया. नेपाली चूत के अंदर अब इंडियन लौड़ा निचे से घुसने लगा. यादव जी भी किसी जवान लड़के के जैसे गांड पे हाथ मार मार के चूत की

खुजली मिटाने लगे. आह आह ओह ओह अब दोनों के मुहं से निकलने लगा.

10-12 मिनिट अपने लंड पे उछालने के बाद यादव जी ने बलम पिचकारी मारी पुष्पा की चूत के अंदर. पुष्पा ने यादव जी ने कंधे के पकड़ के जोर का झटका लगाया. उसकी चूत भी

दूसरी बार झड गई थी. उसने जोर से लंड को अपनी चूत पे दबाया. यादव जी ने उसकी गांड को पकड़ के अपने नन्हे इंडियन शैतान को चूत से बाहर निकाल लिया. पुष्पा कपडे

पहनने लगी और यादव जी ने तभी कंपनी के उपरी अधिकारी को इस लड़की के अच्छे काम का ब्यौरा उसके सामने ही दे दिया….इतना तो बनता ही हैं ना…..!